आचार्यश्री का जन्मोत्सव, अमृत महोत्सव के रूप में मनेगा

label_importantसमाचार

– मप्र विधानसभा परिसर में होगा मुख्य आयोजन

भोपाल। जैन संत परम पूज्य आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के जीवन के 75 वर्ष पूरे होने पर शरद पूर्णिमा, 20 अक्टूबर को भोपाल में विधानसभा परिसर में गुरु अमृत महोत्सव का आयोजन किया गया है। इस अवसर पर आचार्यश्री के जीवन पर आधारित 21 पुस्तकों का विमोचन एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे।

आयोजन के सूत्रधार रवीन्द्र जैन पत्रकार ने बताया कि 20 अक्टूबर की शाम 6.30 बजे विधानसभा के खुले प्रांगण में प्रतिभा स्थली, जबलपुर की पूर्व छात्राओं के मंगलाचरण से कार्यक्रम की शुरूआत होगी। इस अवसर पर भोपाल के विभिन्न मंदिरों में तैयार सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति होगी। दृष्टि पब्लिक स्कूल सनावद के 50 बच्चों ने ज्ञानधारा नाम से आचार्यश्री के जीवन पर नाटिका तैयार की है। इसकी शानदार प्रस्तुति भी की जाएगी। ज्ञानधारा महाकाव्य की रचना आर्यिका श्री पूर्णमति माताजी ने की है। इस अवसर पर पुस्तक विमोचन के अलावा भोपाल के समाजसेवी देवेन्द्र जैन रूचि का समाजरत्न अलंकरण से सम्मानित किया जाएगा। कार्यक्रम में भोपाल के पूर्व महापौर आलोक शर्मा, सुधीर यादव सागर, श्रीपाल नायक टीकमगढ, सुरेन्द्र जैन मालथौन सागर, अवधेश जैन जैसीनगर एवं राजीव जैन विदिशा को मुनिभक्त सम्मान से सम्मानित किया जाएगा।

आचार्यश्री के आशीर्वाद से देशभर में संचालित लगभग 300 गौशालाओं को संचालित करने वाले दयोदय महासंघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रेम जैन प्रेमी भी कार्यक्रम में पधार रहे हैं। भोपाल समाज की ओर से उन्हें गौशाला हेतु लगभग 6.30 लाख की राशि भेंट की जाएगी। यह भोपाल में आयोजित एक धार्मिक कार्यक्रम के दौरान बची थी। कार्यक्रम के अंत में दानवीर प्रदीप जैन मामा परिवार द्वारा आचार्यश्री के चित्र की महाआरती की जाएगी।

Related Posts

Menu