अपनी जिन्दगी को मत बनाओ अभिशाप-मुनि श्री सुधासागर जी महाराज

label_importantसमाचार
  • अपने से दुखी को देखकर प्रभु का आभार मानना, हम कितने सुखी हैं
  • क्षेत्रपाल मंदिर, मूलनायक वेदिका पर हुईं अभिषेक की मांगलिक क्रियाएं

न्यूज सौजन्य- राजीव सिंघई

ललितपुर। आध्यात्मिक संत निर्यापक मुनि श्री सुधासागर जी महाराज ने कहा है कि जो अपनी जिन्दगी से खुश नहीं और उभरने के भाव आएं तो प्रभु का सहारा रखना कल्याण होगा। अपनी जिन्दगी को अभिशाप मत बनाना वरन दुष्ट को बचाने का भाव जीवन में रखना। मुनि श्री ने कहा कि सत्य को पहिचानो। यदि जीवन में गुरु मिल जाए तो जीवन धन्य हो जाएगा।

मुनि श्री ने दुख हरने का उपाय बताते हुए कहा कि जो तुम्हें चाहिए, वह भगवान के सामने पहुंचकर प्रभु के आनंद देखकर आनंद माना चाहिए। उनके वैभव से खुश होना चाहिए। अपने बुरे भाग्य को भूल जाओ और प्रभु को निहारो। जैसे कृष्णजी के वैभव से दुःखी सुदामा अपन दुख को भूल गए। अपने आप को पहचानोय़ तुममें खुद अतिशय है। भगवान के सामने दुखी मत होना वरन अपना दुःख भूलकर प्रभु के सुख मे शामिल हो जाओ। अपने आप को सौभाग्यशाली मानो जिन्दगी का दुख मिट जाएगा।

मुनि श्री ने कहा कि जिन्दगी को कभी कोसना नहीं। अपने आप पर गर्व करो। यदि मन हताश हो जाए तो अपने से दुखी के पास जाना और उसका दुख देखकर प्रभु का आभार मानना कि हम कितने सुखी हैं।

शुक्रवार को प्रातःकाल क्षेत्रपाल मंदिर मूलनायक वेदिका पर अभिषेक की मांगलिक क्रियाएं हुईं जिसका पुर्ण्याजन पन्नालाल बैनाडा परिवार आगरा एवं खजुरिया परिवार ललितपुर द्वारा किया गया। इसके उपरान्त शान्तिधारा मुनि श्री के मुखारविन्द से हुई। पादप्रक्षालन एवं दीपप्रज्जवलन के उपरान्त मुनि श्री को श्रावकों ने शास्त्र भेंट किया। मुनि सुधासागर महाराज एवं नगर गौरव मुनि पूज्य सागर महाराज ने उपवास की साधना की। ऐलक धैर्य सागर महाराज को पडगाहन राजकुमार जैन
लागौन एडवोकेट परिवार एवं क्षुल्लक गंभीर सागर महाराज को ब्रह्मचारिणी सीमा दीदी, पंकज अंगरा परिवार को पडगाहन का पुर्ण्याजन मिला। धर्मसभा में प्रमुख रूप से जैन पंचायत अध्यक्ष अनिल जैन अंचल, महामंत्री डा. अक्षय टडैया, मंदिरप्रबंधक राजेन्द्र जैन थनवारा, मोदी पंकज जैन, धार्मिक आयोजन संयोजक मनोज बबीना, मीडिया प्रभारी अक्षय अलया, निर्माण समिति प्रमुख शीलचंद अनौरा, अखिलेश गदयाना, कोमलदादा, अरविन्द जैन आप्टीशियन, अशोक दैलवारा, जिनेन्द्र जैन डिस्को, संजीव जैन ममता स्पोर्ट आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

29 वां श्रावक संस्कार शिविर का लोकार्पण
निर्यापक मुनि सुधासागर महाराज के सान्निध्य में 29वां श्रावक संस्कार शिविर का लोकार्पण जिज्ञासा समाधान के दौरान पंचायत के महामंत्री डा. अक्षय टडैया एवं शिविर पुर्ण्याजक सिंघई अजित जैन गदयाना परिवार द्वारा संयुक्त रूप से किया गया। शिविर निर्देशक हुकुमचंद जैन काका कोटा एवं दिनेश गंगवाल के नेतृत्व में लगने वाले शिविर के मुख्य संयोजक अविनाश सिंघई, राजीव जैन लकी एवं अंशुल जैन ने मुनि श्री को श्रीफल अर्पित कर शिविर को अतिभव्य बनाने का संकल्प लिया कार्यक्रम का संचालन आलोक मोदी शास्त्री द्वारा किया गया।

Related Posts

Menu