पर्यावरण मित्र दिव्या कुमारी जैन ने आज वन विभाग के जिला कार्यालय में कचनार के बीज भेंट किये। जिनसे तैयार होंगे पौधे ,बढाएंगे मैदानों की शान।

label_importantसमाचार

कोटा । पर्यावरण संरक्षण व सामाजिक चेतना का अभियान चला रही पर्यावरण मित्र दिव्या कुमारी जैन ने आज चित्तौड़गढ़  उप वन संरक्षक कार्यालय में जाकर वहां संगीता जी चौधरी व अन्य कार्मिको को कचनार के बीजो को भेंट किया । 

दिव्या जैन ने बताया कि उसने कुछ वर्षों पूर्व विद्यालय में कचनार के व अन्य पौधे लगाए थे ।  देखभाल व सुरक्षा रखने से वे पौधे अब बड़े हो गए हैं और उनसे हर वर्ष हजारो की संख्या में बीज निकलते है ,इन बीजो को मेरे द्वारा स्वयं एकत्रित किया अथवा करवाया जाता है और  इन बीजो को में अनेक प्रकार से उपयोग में लेती हूं जैसे विद्यालय में वितरण,बच्चो को वितरण ,मिट्टी के लड्डू बनाकर उसमें रखकर खाली जगह पर डाल देना,लोगो को भी ऐसा ही करने को प्रेरित करना ।

दिव्या ने कहा कि मैने हजारो की संख्या में एकत्रित किये गए बीजो जिनमे चंदन व नीम के बीज भी शामिल है  को खाली जगह सड़क के किनारे से थोड़ी दूर,जंगल मे ,,मैदान में डाला है । उसी क्रम में आज वन विभाग चित्तौड़ के कार्यालय में जाकर वहां संगीता जी व अन्य उपस्थित जन को भेंट किये जिससे वे उनके पौधे तैयार कर सके और वे तेयार किये गए पौधे स्कूलों की ,खाली मैदान की,जंगल की घरों की ,खेतो की शोभा बढाएंगे ,  दिव्या कल बिजोलिया, कोटा जाकर वहां व अन्य जगह भी बीजो को वितरित करेगी ।  उसने सबसे इसी प्रकार बीजो को एकत्रित कर उसका सदुपयोग  करने की अपील की। 

संगीता जी व अन्य जन ने दिव्या के कार्य व प्रयास की सराहना की । दिव्या ने उन्हें अपनी पर्यावरण मित्र पत्रिका की प्रति भी भेंट की ।

पर्यावरण मित्र  दिव्या गत 12 वर्षों से पर्यावरण संरक्षण व सामाजिक चेतना का अभियान चला रही है। 

Related Posts

Menu