मन शान्त रखने के लिए इच्छाओं पर नियंत्रण की जरूरत-मुनि श्री सुधासागर

label_importantसमाचार
  • मुनिश्री ने कहा, सुख और दुख में धर्म की अनुभूति में ही परमानंद

 

न्यूज़ सौजन्य -राजीव सिंघई

ललितपुर। आध्यात्मिक संत निर्यापक मुनि श्री सुधासागर जी महाराज ने कहा है कि श्रावक संसार में सुख महसूस करता है जबकि साधु धर्म और परमार्थ में आनंद की अनुभूति करता है। साधु शीत ऋतु में नदी किनारे और ग्रीष्म में चट्टान पर बैठकर साधना तपस्या करने में अलोैकिक आनंद का अनुभव करता है। मुनिश्री ने कहा कि अपना मन हमें बहुत ही दुर्लभता से मिला है जिसको काबू में रखना चाहिए। साधु का हो या श्रावक का, सभी का मन मचलता है। साधु का मन धर्मसाधना के लिए जहां रहता है, वहीं श्रावक का मन संसारिक कार्यों के लिए मचलता है। उन्होंने मन को शान्त रखने के लिए इच्छाओं पर नियंत्रण की जरूरत बताई। उन्होंने कहा, धर्म को दुख में नहीं, सुख में आनंद की अनुभूति करो यही परमानंद है।
बुधवार प्रातःकाल क्षेत्रपाल मंदिर मूलनायक वेदिका पर अभिषेक की मांगलिक क्रियाएं हुईं। इसके उपरान्त शान्तिधारा मुनिश्री के मुखारविन्द से हुई। मुनि सुधासागर महाराज का पादप्रक्षालन चक्रेश्वर कुमार राजेश -हजयोजिया परिवार, वीरेन्द्र कुमार मोदी परिवार, इन्द्रभूषण, रमेश चंद संजू नीलकमल परिवार, विशाल जैन, विकास जैन, राजीव सौरई, पुष्पेन्द्र जैन रिंकू महरौली ने किया। आचार्य श्री के चित्र के सम्मुख दीपप्रज्जवलन प्रदीप जैन पीएनसी आगरा, मनोज जैन वाकलीवाल, जगदीश प्रसाद जैन, सुनील जैन ठेकेदार, राकेश जैन ने संयुक्त रूप से किया। पद्मश्री कैलाश मडवैया भोपाल ने गुरुवंदना कर मुनि श्री को नमन किया।
बुधवार को मुनि सुधासागर महाराज को पडगाहन सुमित जैन मिठया संयम फर्नीचर परिवार, मुनि पूज्य सागर महाराज को पडगाहन श्रद्धा दीदी गुलाबचंद जैन परिवार, ऐलक धैर्य सागर महाराज को पडगाहन पदमचंद जैन बेगमगंज परिवार एवं
क्षुल्लक गंभीर सागर महाराज को पडगाहन सुनील जैन पापड परिवार को मिला। कार्यक्रम का संचालन महामंत्री डा. अक्षय टडैया द्वारा किया गया। धर्मसभा में ब्रह्मचारी मनोज भैया, नरेन्द्र कडंकी, कपूरचंद लागौन, डा. हुकुमचंद पवैया, अक्षय अलया, नरेन्द्र जैन छोटे पहलवान,राहुल जैन,अन्तिम पारौल, शैलेश जैन पिंटू, संजीव सौरया, श्रीमती मीना इमलिया, वीणा जेन, अनीता मोदी, सुधा सिमरा, मधु खजुरिया, किरण सतभैया आदि उपस्थित रहे।

श्रावकों की शंकाओं का समाधान
सायंकाल जिज्ञासा समाधान में मुनि सुधासागर महाराज ने श्रावकों द्वारा की गई शंकाओं का समाधान किया। कार्यक्रम के दौरान एडीशनल कमिश्नर आयकर चण्डीगढ़-संजय अंकुर अलया का जैन पंचायत ने मुनि श्री के सान्निध्य में सम्मान किया। इस मौके पर सीए संजीव जैन, सौरभ जैन, विकास जैन मंदिर प्रबंधक सभासद मोदी पंकज जैन, अभिषेक अनौरा पवन जैन शिवाजी, संजय रसिया, डा. सुनील जैन संचय, पुष्पेन्द्र जैन आदि प्रमुख रूप से मौजूद रहे।

Related Posts

Menu