पावन भूमि सनावद में दो दिवसीय भव्य आयोजन 7-8 अगस्त को

label_importantसमाचार
  • वर्धमान यशकीर्ति भवन का भूमिपूजन एवं शिलान्यास 8 को

न्यूज सौजन्य- सन्मति जैन

सनावद। वात्सल्य वारिधि, राष्ट्र गौरव, आचार्य रत्न 108 श्री वर्धमान सागर जी की जन्मस्थली सनावद नगर में निर्मित होने जा रहे वर्धमान यशकीर्ति भवन के भूमिपूजन एवं शिलान्यास समारोह पर दो दिवसीय भव्य आयोजन 7-8 अगस्त को सनावद में किया जा रहा है। प्रतिष्ठाचार्य हसमुख जैन शास्त्री धरियावद राजस्थान के निर्देशन में दो दिन तक भव्य आयोजन होंगे। विराट भजन संध्या, घट यात्रा निकाली जाएगी।
जैन समाज के प्रवक्ता सन्मति जैन काका ने बताया कि त्यागी- वृंद सहित मुनियों की त्याग और तपस्या की पावन भूमि सनावद नगरी में आयोजन होने जा रहा है। यहां वर्षों बाद बालक यशवंत के पुश्तैनी मकान को वर्धमान यशकीर्ति भवन में तब्दील करने हेतु भूमिपूजन एवं शिलान्यास का शुभ मुहूर्त 7 एवं 8 अगस्त को आया है। वात्सल्य वारिधि फाउंडेशन एवं सकल दिगंबर जैन समाज सनावद के आयोजन में 7 अगस्त रविवार को शाम 8 बजे पंकज जैन एण्ड आर्केष्ट्रा पार्टी इंदौर के द्वारा आचार्य श्री की जन्मस्थली एम जी रोड़ पर भजन संध्या में जैन भजनों की सुमधुर प्रस्तुतियां दी जाएंगी। 8 अगस्त को प्रातः 7.30 बजे बड़ा जैन मंदिर जी से घट यात्रा निकाली जाएगी।
आचार्य श्री वर्धमान सागर जी महाराज के आशीर्वाद से भूमि प्रदाता श्रीमती शोभा जयवंत जैन एवं पारस जैन एवं परिवार के शुभ भावों को मूर्त रूप देने के लिए प्रातः 8.45 बजे शुभ मुहूर्त में भूमि पूजन एवं शिलान्यास का कार्यक्रम प्रतिष्ठाचार्य हसमुख जैन शास्त्री धरियाबाद (राज.) के निर्देशन में पुण्यार्जक चिंतामण जैन खंडवा एवं भरत कुमार जैन इंदौर द्वारा किया जाएगा। 9.30 बजे धर्मसभा को पंडित हसमुख शास्त्री संबोधित करेंगे। इस अवसर पर आचार्य श्री के चातुर्मासी संघ महावीर जी (राज.) से आमंत्रित त्यागी वृंद ब्रम्हचारी गज्जू भय्या, ब्र.नमन भय्या, ब्र.पूनम दीदी, ब्र. दीप्ती दीदी कार्यक्रम में आचार्य श्री की और से दिए आर्शीवचन संदेश को आम जन तक पहुंचाएंगे। इंजीनियर एवं आर्किटेक्ट आशीष जैन (धार) की परिकल्पना को आने वाले दिनों में साकार रूप दिया जाएगा। कार्यक्रम में निमाड़ सहित मालवा के धर्मालुजनों की उपस्थिति रहेगी।
काका ने बताया कि इस अवसर पर सकल दिगंबर जैन समाज के समस्त गुरु भक्त युवा वर्ग व वरिष्ठ समाजजनों ने सभी से कार्यक्रमों में उपस्थित होकर धर्मलाभ लेने का आग्रह किया है।

Related Posts

Menu