पाकिस्तान का लड़ाकू विमान मार गिराने के लिए वायुसेना पायलट अभिनंदन वर्धमान वीर चक्र से सम्मानित

label_importantसमाचार

नई दिल्ली । राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने सोमवार को बालाकोट एयर स्ट्राइक के हीरो रहे वायुसेना के ग्रुप कैप्टन अभिनंदन वर्धमान को वीर चक्र से सम्मानित किया।

राष्ट्रपति भवन में आयोजित अलंकरण समारोह में अभिनंदन को यह सम्मान पाकिस्तान के खिलाफ अदम्य साहस के प्रदर्शन के लिए दिया गया

अभिनंदन के सम्मान के दौरान राष्ट्रपति भवन तालियों से गूंज उठा। अभिनंदन ने 2019 में पाकिस्तानी F-16 लड़ाकू विमान को युद्ध में मार गिराया था। उस समय वे वायुसेना में विंग कमांडर थे।

पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के बालाकोट में आतंकी कैंपों पर एयर स्ट्राइक की थी। इसमें कई आतंकी मारे गए और उनके ठिकाने तबाह हुए थे। इसके बाद पाकिस्तानी लड़ाकू विमानों ने भारतीय सीमा में घुसने की कोशिश की थी, जिसका भारत ने करारा जवाब दिया था।

राष्ट्रपति ने दो कीर्ति चक्र, एक वीर चक्र और दस शौर्य चक्र प्रदान किए । 13 परम विशिष्ट सेवा पदक, दो उत्तम युद्ध सेवा पदक और 24 अति विशिष्ट सेवा पदक भी दिए गए । राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने, जो सशस्त्र बलों के सर्वोच्च कमांडर हैं। आज सुबह (22 नवंबर, 2021) राष्‍ट्रपति भवन, नई दिल्‍ली में आयेाजित रक्षा अलंकरण समारोह (चरण-1) के दौरान सशस्त्र बलों और अर्धसैनिक बलों के कर्मियों के लिए वीरता पुरस्‍कार प्रदान किए। एक मरणोपरांत सहित दो कीर्ति चक्र, एक वीर चक्र और दो मरणोपरांत सहित 10 शौर्य चक्र प्रदान किए गए। ये वीरता पुरस्‍कार विशिष्‍ट सेवा, अदम्य साहस और कर्तव्य के प्रति अत्यधिक समर्पण का प्रदर्शन करने वाले कर्मियों को प्रदान किए गए।

राष्ट्रपति भवन में आयोजित अलंकरण समारोह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी हिस्सा लिया।

गौरतलब है कि 14 फरवरी 2019 को पाकिस्तान के आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा पर फिदायीन हमला किया था। इस हमले में भारत के 40 जवान शहीद हो गए थे। वहीं इसके बाद पीएम मोदी ने इस हमले का मुंहतोड़ जवाब देने का एलान किया था। वायुसेना ने 26-27 फरवरी की रात पाकिस्तान के बालाकोट में एयरस्ट्राइक की थी।

भारतीय सेना के हमले में 300 से ज्यादा आतंकियों की मौत हो गई थी। जिसके बाद अगले दिन ही बौखलाए पाकिस्तान की वायुसेना ने भारत में घुसने की कोशिश की, लेकिन भारतीय वायुसेना ने उसे खदेड़ दिया।

उसी दौरान तत्कालीन विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान उस समय Mig-21 उड़ा रहे थे। उन्होंने इस दौरान पाकिस्तान के F-16 को मार गिराया था।

हालांकि बाद में अभिनंदन का विमान पाकिस्तान की सीमा में क्रैश हो गया, जिसके बाद पाकिस्तानी सेना ने उन्हें अपनी गिरफ्त में ले लिया था। भारत के दबाव में पाकिस्तान ने करीब 60 घंटे बाद अभिनंदन को छोड़ा था। छोड़ने के बाद पूरे देश में खुशी की लहर दौड़ गई थी।

बता दें कि बालाकोट स्ट्राइक (Balakot Air Strike) के वक्त वायुसेना में विंग कमांडर रहे अभिनंदन अब ग्रुप कैप्टन बन गए हैं और उन्होंने अपना लुक भी पूरी तरह बदल लिया हैएयरस्ट्राइक के समय अभिनंदन की मूंछें लंबी-लंबी थीं. उस समय उनकी लोकप्रियता इतनी बढ़ गई थी कि हर कोई उनके जैसी मूंछें रख रहा था ।

Related Posts

Menu