विस्मृत होते संस्कारों को बचाने की जरूरत: मुनि श्री सुधासागर महाराज

label_importantसमाचार
  • जरूरी है अपने बुजुर्गों के साथ बैठकर
  • कुछ सीखेंपूर्व पुलिस कमिश्नर दिल्ली एसके जैन की गरिमामय उपस्थिति

ललितपुर, 26 जुलाई। स्थानीय क्षेत्रपाल मंदिर में धर्मसभा को सम्बोधित करते हुए निर्यापक श्रमण मुनि श्री सुधासागर महाराज ने मंगलवार को कहा कि आज अतीत के संस्कार विलुप्त, विस्मृत हो रहे हैं जिनके संरक्षण की महती जरूरत है। मानव जन्म उच्च कुल में होने के बाद भी बच्चे पाश्चात्य संस्कारों को संजो रहे हैं और भारतीय सभ्यता, संस्कृति से दूर जा रहे हैं। खुद को संस्कारों से जोड़ने की जरूरत है। जरूरत है अपने बुजुर्गों के साथ बैठकर कुछ सीखें। अपनों से दूरी रखना सबसे घातक बताते हुए मुनि श्री ने कहा कि यह अशान्ति का कारण बनता है । मुनिश्री ने समाज में कुलाचार के पालन का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि हमें अपने कुलाचार नहीं भूलना चाहिए।

ललितपुर से अक्षय अलया व डां. सुनील संचय ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रातःकाल क्षेत्रपाल मंदिर मूलनायक वेदिका पर अभिषेक की मांगलिक क्रियाएं हुईं। इसके उपरान्त शान्तिधारा मुनिश्री के मुखारविन्द से हुई जिसका पुर्ण्याजन तीर्थोदय तीर्थ गोलाकोट के अध्यक्ष एसके जैन पूर्व पुलिस कमिश्नर दिल्ली, आरके जैन वास्तु, महेन्द्र छावडा जयपुर, डा.चक्रेश जैन परिवार को मिला।

इन्हें मिला आहारचर्या कराने का सौभाग्य: मंगलवार को मूुनि श्री सुधासागर महाराज की आहार चर्या पारस जैन गांधीनगर, नगर गौरव पूज्य सागर महाराज की आहारचर्या अनिल जैन अंकुर जैन मिठया मोहन मावा परिवार, एलक धेर्यसागर महाराज की आहारचर्या राजकुमार जैन देवरान एवं क्षुल्लक गम्भीर सागर महाराज की आहारचर्या निधि जेन प्रदीप सिंघई सीएससी परिवार में हुई। जैन पंचायत अध्यक्ष अनिल जैन अंचल, महामंत्री डा. अक्षय टडैया, शीलचंद अनौरा, मंदिर प्रबंधक राजेन्द्र जैन थनवारा, सभासद पंकज जैन मोदी, मनोज जैन बबीना आदि प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

निर्माणाधीन वृद्धाश्रम को मिला मुनि श्री का आशीर्वाद


अक्षय अलया एवं डा. सुनील संचय ने बताया कि प्रातःकाल मुनि सुधासागर महाराज ने पार्श्वनाथ कालोनी में निर्माणाधीन जनक जननी वृद्धाश्रम का अवलोकन किया और आशीर्वाद दिया। दिगम्बर जैन पंचायत समिति के अन्तर्गत जैन सेवा समिति द्वारा संचालित जनक जननी वृद्धाश्रम द्वारा पिछले 7 वर्षों से निरंतर निःशुल्क भोजन करा रही हैं। अब आचार्य श्री विद्यासागर महाराज ओैर मुनि श्री सुधासागर महाराज के आशीर्वाद व पूर्णमति माता जी की प्रेरणा से उन वृद्ध माता- पिता स्वरूप लोगों के रहने के लिए पारसनाथ कालौनी में वृद्धाश्रम का निर्माण किया जा रहा है। जिसका कोई नहीं, वह सभी आकर रह सकेंगे। अन्नपूर्णा समिति के अध्यक्ष अमित प्रिय जैन,जैन सेवा समिति के अध्यक्ष दीपक बुखारिया, मंत्री सीए शशांक जैन ओसवाल, सतीश जैन बंटी, सुरेश बाबू जैन एड, जितेन्द्र जैन ,मनोज जैन छप्पन भोग, श्रीश सिंघई, विशाल सराफ विवेक समैया, प्रियंक जैन वेरायटी, पवन जैन आदि मौजूद रहे। मुनि श्री ने निर्माणाधीन जैन मंदिर का भी अवलोकन किया।

Related Posts

Menu